एमपी के एक स्कूल का उपयोग करने के लिए प्रयोग करने का आोप

शिवपुरी:

राज्य में एक धर्म गुरु आवभगत के लिए सरकारी स्कूल में परीक्षा बंद करवा दी जाएगी। ️ खुले️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ घटना मध्य मध्य प्रदेश के शिवपुरी के रथखेड़ा गांव के है, जहां रहने वाले राज्य मंत्र सुर धाकड़ के समर्थन से भागवत कथानेका था, यह फोन के पुनीरोद्धार के थे। प्राइमरी स्कूल पर सरसर का इटेमाल खाना पकाने के लिए किया गाया और उतारा ही बनना गाया। स्कूल की क्यू कटानांक को भोजन के लिए ली तब्जिया रखने वाला और मीनरल वाटर की बोतलेंखने के लिए इच्छेमाल किया गाया। महिला स्त्रीत्व को महिला रूप दिया गया।

यह भी आगे

इस खेल की परीक्षा में जो परीक्षा में थे, मंदिर में तीन अप्रैल से शुरू होने वाले थे. स्कूल के कुछ समय के हिसाब से ऐसा कहा जाता है कि पर्यावरण के हिसाब से स्कूल के वातावरण में ऐसा कहा जाता है। पर्यावरण सिंह सक्रिय हैं। एयरकंडीसनर तैट आराम के लिए . .

यह उल्टा सवाल है। भागवत कथा से स्कूल की परीक्षा में शामिल हों। रथखेड़ा आवास में रहने का स्थान भी, रथखेड़ा दैवीय स्थायित्त्व और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री सिंधिया के हैं। राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी भागवत कथा पंडाल में थे।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.