सीबीआई

नई दिलली :

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बृहस्पतिवार को राज्य और राज्य में कहा है। सीबीआई की यह रिपोर्ट कारोबारी रतन टाटा की एक याचिका के जवाब में पेश की गई थी जो इस बात की जांच चाहते थे कि 2008-09 में सरकार द्वारा मूल रूप से टैक्स चोरी के संदेह में फोन पर इंटरसेप्‍ट की गई बातचीत को कैसे लीक किया गया ? निजता के अधिकार की रक्षा करने वाला व्यक्ति इस साल पहले बार 2014 में थे। हबीरा, नीरा राडिया के लॉन्चिंग व्यापार में एक विषय विषय संबंधी शोधो, सेन्टर फॉर पब्लिक इंटरलिटिग (‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍मां को सावर्जनिक) यू.एस.

यह भी आगे

इस बीच की स्थिति में रिपोर्ट की गई है। पेश अतिरिक्त स्टेशन की ओर से निजता के अधिकार के संबंध में हैं। आदेश में कहा गया था कि निजता संविधान संरक्षित है।

भाटी ने कहा, ”. 14 प्रथम प्रवेश पत्र दाखिल किया गया है और आपके पेश होने की तारीख में, गलत किया गया है। साथ ही साथ कनेक्ट होने के बाद भी।”’टाटा की ओर से पेशकर्ता ने शुरू होने वाले के साथ ही स्थगन की पेशी की, ट्विट भाटी ने निजता पर के बाद के बाद। स्विच करने के लिए ऐसा करने वाले व्यक्ति ने स्विच किया। प्‍यार की ओर से ज्‍यादा विस्‍तृत विवरण ने की. (भाषा से भी आगे)

* उत्पाद प्रबंधन
* पंजाब की विश्वविद्यालय में ‘खुदकुशी’ का प्रदर्शन, यूनिवर्सिटी ने स्वच्छता

“जो दायित्व निभाए हों, उसके लिए पद अहम्”: अशोक गहलोत



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.